स्मार्ट टीम लीडर ही दे सकता है बेहतर आउटपुट- प्रो.पीयूष रंजन

0
14

एक आम इंसान को लीडर बनने के लिए सबसे पहले अपनी सोच को लीडर की सोच की तरह डेवलप करना पड़ता है। इसके लिए प्रबंधन, प्रदर्शन, प्रेरित और प्रेरणा सबसे अहम फैक्टर है। लीडरशिप स्किल में प्रबंधन और स्मार्ट टीम का गठन जैसे महत्वपूर्ण पहलुओं पर हमने एसोसिएशन ऑफ लीडर्स एण्ड इंडस्ट्रीज (एली) के डायरेक्टर जनरल प्रो. पीयूष रंजन से बातचीत की। पेश हैं बातचीत के कुछ खास अंश….

प्रश्न— सफलता पाने में लीडरशिप स्किल की क्या भूमिका होती है?

एक अच्छी लीडरशिप स्किल की बदौलत ही कोई सफल लीडर या कारोबारी बन सकता है। किसी भी क्षेत्र में अपना एक विशेष पहचान बनाने के लिए उचित प्रबंधन का होना बहुत आवश्यक है। एक सफल नेता या कारोबारी उचित प्रबंधन को ही केंद्र में रखकर अपने बुनियादी कौशल पर ध्यान देता है। आप उचित प्रबंधन के साथ आपने नेतृत्व कौशल को विकसित करने की सोच रहे है तो आप सही दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। आज की युवा पीढ़ी को बेहतर लीडर बनने के लिए बुनियादी प्रबंधन कौशल को सबसे पहले विकसित करने की जरूरत है। जिसमें कार्य योजना, आयोजन, निर्देशन और नियंत्रण जैसे आयाम पर फोकस करना जरूरी है।

प्रश्न— अच्छे लीडर में क्या गुण होने चाहिए ?

एक सफल नेता या कारोबारी में चीजों की व्याख्या करने की शैली होनी चाहिए। साथ ही एक लीडर में दूसरों को प्रेरित करने की कला का भी होना आवश्क है। ऐसा करने से आप अपनी टीम या आपसे जुड़े हर उस शख्स को प्रभावी ढ़ंग से अपने प्रदर्शन को बेहतर करने के लिए प्रेरित कर सकते हैं। अपनी प्रबंधन कला के आधार पर ही एक टीम लीडर अपनी टीम के कार्यों को नियमित रूप से समीक्षा करता है। बदलते वैश्विक, सामाजिक, विविध और बहु-सांस्कृतिक वातावरण में अपनी अलग पहचान बनाना एक बड़ी चुनौती है और इसके लिए उचित नए कौशल के साथ ही प्रबंधन दक्षता का होना अति आवश्यक है।

प्रश्न— एसोसिएशन ऑफ लीडर्स एण्ड इंडस्ट्रीज क्या है और ये किस प्रकार से अपना कार्य करता है?

एसोसिएशन ऑफ लीडर्स एण्ड इंडस्ट्रीज जिसे शार्ट में हमने ‘एली’ का नाम दिया है। ‘एली’ बदलते विश्व और न्यू इंडिया के परिवेश में लीडरशिप स्किल को नये तरीके से परिभाषित करते हुए यह बताता है कि नव उदारीकरण और वैश्विक प्रतियोगिता के बीच किसी भी राष्ट्र या संस्था को आगे बढ़ाने में लीडर की कितनी बड़ी भूमिका होती है। साथ ही आप यू समझे कि एसोसिएशन ऑफ लीडर एंड इंडस्ट्रीज राजनीति, प्रशासन, कॉर्पोरेट, अकैडमिक और शोध सहित विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े शख्सियतों का एक नेटवर्क है, जो सर्वेक्षण, अनुसंधान, विचार-विमर्श के आधार पर एक दूसरे के विचारों को साझा करने के लिए एक मंच प्रदान करता है।

प्रश्न— एक कुशल लीडर या टीम लीडर की कारोबार के क्षेत्र में क्या रोल है?

जैसा कि हमने अभी बताया कि किसी भी राजनीतिक व आर्थिक व्यवस्था में एक कुशल लीडर की मांग सबसे अधिक है। लीडरशिप स्किल का तात्पर्य सिर्फ राजनीति से ही नहीं है बल्कि बिजनेस, व्यापार, नौकरी और इंडस्ट्रीज में भी उतना ही है। किसी भी इंडस्ट्रीज या कंपनी को उसके खास मुकाम तक पहुंचाने में एक कुशल लीडर का ही हाथ होता है। उदाहरण के तौर पर एप्पल इंक के सह-संस्थापक स्टीव जॉब्स, फेसबुक संस्थापक मार्क झुकरबर्ग, रिलायंस इंडस्ट्रीज के सीएमडी मुकेश अंबानी, टाटा समूह के रतन टाटा और माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स जैसे हस्तियों का नाम है जिन्होंने अपनी शानदार लीडरशिप स्किल की बदौलत सफलता की बुलंदियों को पाने में सफल रहे हैं।

क्यो जरूरत है आज एली की और एली ही क्यो ?

हमारा देश युवाओं का देश है, आज बड़े से बड़े कारपोरेट कंपनियां भी लीडरशिप स्किल के महत्व को देखकर ही युवाओं को उच्च से उच्च पदों पर चयनित करती है। उदारीकरण के इस दौर में लीडरशिप स्किल का महत्व व्यवस्था, कारोबार, गर्वनेंश, राजनीति और विज्ञान हर क्षेत्र में बढ़ चढ़कर है। किसी भी आम इंसान को अच्छा लीडर बनने के लिए सबसे पहले अपनी सोच को एक लीडर के दिमाग की तरह बनाना होता है। इसके साथ ही अपने तौर—तरीको में भी बदलाव लाना पड़ता है। एसोसिएशन ऑफ लीडर्स एण्ड इंडस्ट्रीज देश भर में लीडरशिप की सोच के साथ एक अग्रणी थिंक टैंक के रूप में जानी जाती है और हमारा प्रयास है कि आने वाले समय में ज्यादा से ज्यादा युवाओं में लीडरशिप स्किल डेवलप करवाने में उनके सहायक बने।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here